कई मर्ज़ की दवा है जायफल का तेल, जाने इसके फायदे, उपयोग एवं नुकसान –

जायफल का नाम तो आप सबने ज़रूर सुना होगा और कभी न कभी इसे किचन में भी अवश्य देखा होगा क्योंकि जायफल मसालों की श्रेणी मे आता है। आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे की यह एक इंडोनेशियाई मसाला है। पर साथ ही ये एक प्रकार की औषधि का काम करता है। 

रोगीयों के लिए जायफल का तेल बहुत उपयोगी माना जाता है। जायफल में ऐसे कई तत्व पाए जाते है जो स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। जायफल  में थियामिन, विटामिन बी 6, फाइबर, फोलेट, कापर एवं मैग्निशीयम जैसे पोषक तत्वों के गुण शामिल है। ये सभी तत्व हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी माने जाते हैं। शरीर के भीतर पहुँच ये तत्व कई रोगों से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता भी प्रदान करते हैं एवं हमारे स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखते हैं। 

जायफल का इस्तेमाल आयुर्वेदिक औषधि में मुख्य रूप से किया जाता है, इसका तेल भी एक औषधि के रूप में कार्य करता है जो शरीर के लिए अति लाभकारी है। हमारे आज के आर्टिकल के माध्यम से हम जानेगे की जायफल के तेल से क्या फायदे होते है और ये किस प्रकार से उपयोगी है एवं साथ हम ये भी जानेंगे की इसके क्या क्या नुकसान हो सकते हैं। तो चलिए शुरू करते है। –

जायफल तेल के फायदे –

चलिए दोस्तों अब हम आपको विस्तार पूर्वक इस तेल से होने वाले फायदे के बारे में जानकारी प्रदान करते हैं।

1. मस्तिष्क को स्वस्थ रखता है। –

जायफल का तेल दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद माना गया है, इस तेल में एंटी कौनवलसेंट गुण मौजूद है जो हमारे मस्तिष्क को शांत एवं स्वस्थ रखता है। इसका इस्तेमाल मिर्गी के मरीजों को अवश्य करना चाहिए क्योंकि मिर्गी के दौरे पड़ने से ये तेल रोगी को बचाता है। उनके लिए ये एक तरह से औषधि का काम करती है जो बहुत लाभकारी मानी जाती है। 

अगर आप माइग्रेन की समस्यायों से जूझ रहे है तो ये आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। इसके प्रयोग से आपको सर दर्द से राहत मिलेगी। पर ध्यान रहे इस तेल को आपको सामान्य मात्रा में ही उपयोग मे लाना चाहिए, अन्यथा ये उल्टा असर दिखाने लगती है। 

2. मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है। –

Healthy Muscles

शरीर जब अंदर से स्वस्थ रहता है तो इसका पता बाहर से लग जाता है। व्यक्ति का शरीरिक रूप देखकर बताया जा सकता है को वह स्वस्थ है या नही। शरीर के भीतर का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा मांसपेशियों को माना गया है जिसे मजबूत रखना बहुत आवश्यक होता है। 

तो अगर आप अपने मांसपेशियों को मजबूत रखना चाहते हैं तो जायफल का तेल आपके लिए एक औषधि के समान हो सकता है। इस तेल में एंटी इंफ्लेमेट्रि जैसे गुण शामिल होते है जो हमारे मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करते हैं।

3. सांसों की बदबू दूर करता है। –

Mouth Smell

बहुत से लोगों को साँसों की दुर्गंध की समस्या होती है, और इस समस्या से निजात पाने के लिए वो तरह तरह के टूथ पेस्ट का प्रयोग करते है, लिहाजा इससे उन्हे उतना फायदा नही मिल पाता। ऐसे में बहुत से पेस्ट ऐसे भी आते है जिसमें जायफल के तेल का भी कुछ मात्रा में मिश्रण होता है। 

तो आपके लिए ऐसे पेस्ट का चयन करना ज्यादा लाभकारी हो सकता है। जायफल का तेल में एंटीमाइक्रोबियल जैसे गुण पाए जाते हैं जो मुह के बैक्टीरिया का जड़ से खात्मा कर बदबू को दूर करता है और साथ ही अगर आप जायफल के तेल की कुछ बुँदे पानी में डालकर गरारा करते है तो इससे आपकी दुर्गन्ध वाली समस्या दूर हो सकती है, और साथ ही आपके दात व मसूड़े भी मजबूत रहेंगे। 

4. त्वचा के लिए लाभकारी –

Healthy Skin

हमारी त्वचा शरीर का बहुत नाज़ुक हिस्सा होती है जो धूप, धूल, गर्मी, बरसात सब झेलती है इसलिए त्वचा का मुख्य रूप से देखभाल करना चाहिए। जायफल के तेल से मालिश करने से हमारी को बहुत लाभ मिलता है, अगर आपको एकने, पिंपल, डार्क स्पोट्स जैसी प्रॉब्लम है तो इससे लड़ने में ये तेल बहुत मदद करता है एवं इसे जड़ से मिटाने का प्रयास करता है। 

चेहरे पर इस तेल को लगाने के लिए एक कॉटन पर तेल की कुछ बूंदों को डाल लेना चाहिए फिर इसे उस जगह पर अप्लाई करना चाहिए जहाँ दाग धब्बे या मुहासे है। जायफल के तेल मे एंटी बेकटीरियल व एंटी फंगल जैसे तत्व मौजूद होते है जो स्किन की तमाम समस्याओं को जड़ से खत्म कर एक खूबसूरत त्वचा प्रदान करते हैं। 

5. जोड़ो के दर्द से राहत :

Joint pain

अगर आप भी जोड़ो के दर्द से परेशान हो चुके है तो आपको एक बार जायफल का तेल ज़रूर इस्तेमाल करना चाहिए। जायफल के तेल मे एंटी ओक्सिडेंट के गुण शामिल होते है जिनकी मदद से जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है एवं सूजन जैसी संस्याओं से राहत मिलती है। आप इस तेल से शरीर के उन हिस्सों पर मालिश भी कर सकते है जहाँ आपको ज्यादा दर्द या अन्य परेशानी है। 

अगर कभी पेट दर्द शुरू हो जाता ही तो इससे हल्के हाथों से मालिश करने से भी व्यक्ति को बहुत आराम मिलता है, दवा लेने के साथ साथ आप इसे भी इस्तेमाल करके देख सकते है इसका असर आपको खुद समझ आने लगेगा। इस प्रकार ये कहना गलत नहीं होगा की जायफल का तेल एक दर्द निवारक के सामान है जो शरीर में होने वाले कई दर्द से निजात दिलाती है। 

6. पीरियड्स में ऐंठन को दूर करता है। :

Period pain

मासिक धर्म के दौरान अक्सर महिलाओं को बहुत पीड़ा का सामना करना पड़ता है, इन दिनों पेट मे ऐंठन जैसी समस्या होती है और शरीर शिथिल पड़ जाता है। ऐसे मे अगर जायफल का तेल का प्रयोग किया जाए तो इसकी कुछ बुँदे ही जादू की तरह काम करती हैं। 

इस तेल में ऐसे तत्वों के गुण शामिल है जो मासिक धर्म में होने वाली पीड़ा से निजात दिलाती है और बॉडी को हेल्दी रखने में भी सहायक होती है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपनी संतुष्टि के लिए आप एक बार डाक्टर से भी सलाह ले सकती हैं। 

7. स्वाद वृद्धि में सहायक :

Taste

स्वाद बढ़ाने के मामले में जायफल का तेल बहुत लाभकारी माना जाता है, इस तेल की कुछ बूंदों को प्रयोग मिठाई एवं मसालेदार खानों मे फ्लेवर बढ़ाने के उद्देश्य से किया जाता है। इसका इस्तेमाल करने से स्वाद में एक नयारूप आ जाता है जिससे मिठाई एवं मसालेदार भोजन लाजवाब बनते हैं। 

जायफल तेल का उपयोग –

जायफल तेल से होने वाले अनगिनत फायदों के बारे में तो अब तक तो आप अच्छे से जान ही चुके होंगे और आपके मन ये सवाल उत्पन्न हो रहा होगा की आखिर इस तेल को उपयोग में लाने का सही तरीका क्या है। तो आइये देर न करते हुए जानते है की इसे कैसे इस्तेमाल किया जाता है। 

  1. जायफल के तेल की कुछ बूंदों को हथेलियों मे लेकर आप मसाज कर सकते हैं। 
  2. अरोमाथेरेपी मे भी इस तेल का इस्तेमाल मालिश के रूप मे किया जाता है, ये बहुत फायदेमंद होता है। 
  3. अगर आपके मसूड़ों मे दर्द जैसी समस्या हौ तो इसे उंगलियों की मदद से आप हल्के हाथों से मसूड़ों पर लगा सकते है। ऐसा करने से आपके मसूड़े स्वस्थ रहेंगे। 
  4. फ्लेवर बढ़ाने के लिए साधारणतः इसकी कुछ बूंदों को खाने में डाला जा सकता है
  5. इस तेल को पानी मे मिलाकर माउथ वाश भी किया जाता है ऐसा करने से मुह से दुर्गन्ध जैसी समस्या भी दूर होगी एवं ताज़गी बरकरार रहती है। 

जायफल तेल के नुकसान –

अभी तक आपने जायफल के तेल से होने वाले फायदे एवं इसके उपयोग के तरीकों के बारे में विस्तार से जाना पर ये भी सच है की एक सिक्के के दो पहलू होते हैं वैसे ही किसी भी चीज के गुण व दोष भी हो सकते हैं। जहाँ जायफल तेल के कई फायदे होते है वही इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं जो इस प्रकार है। –

  1.  बहुत से लोगों को इस तेल की सुगंध से एलर्जी की समस्या हो सकती है क्योंकि इसकी खुशबू थोड़ी हार्ड होती है, तो ऐसे लोग अगर इसका प्रयोग करते हैं तो उन्हे बहुत कम मात्रा में इसे इस्तेमाल करना चाहिए। 
  2. किसी भी चीज का अपेक्षा से अधिक प्रयोग हमारे लिए एक समस्या का कारण बन सकता है इस लिए इस तेल को समान्य मात्रा में ही इस्तेमाल मे लाना चाहिए। इसका आवश्यकता से अधिक प्रयोग आपके लिए समस्या का कारण बन सकता है।
  3. कभी कभी इस तेल को ज्यादा लगाने से व्यक्ति तनाव या अवसाद से ग्रस्त हो जाता है
  4. जायफल के तेल के अधिक इस्तेमाल से नींद मे खलल पड़ती है क्योंकि इससे नींद अच्छी नही आती है।
  5. कभी कभी हम ज्यादा असर दिखाने की चाहत में किसी भी प्रोडक्ट का आवश्यकता से अधिक इस्तेमाल कर लेते है, लिहाजा होता इसका उल्टा है इसलिए अगर आप मसाज के दौरान इसे अधिक मात्रा में लगा लेते हैं तो आपको खुजली, उल्टी एवं लाल चकत्ते जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। 

निष्कर्ष –

हमारे आज के इस आर्टिकल में आपने जायफल के तेल से होने वाले फायदों एवं नुकसान के बारे में विस्तार से जाना, हम आशा करते है की हमारे द्वारा लिखा ये लेख आपके लिए फायदेमंद साबित होगा और आपको इस तेल के बारे में संपूर्ण जानकारी मिले होगी। 

जायफल का तेल इस्तेमाल करने से पहले आप एक बार अपने नज़दीकी डाक्टर से सलाह मशवरा कर सकते हैं ताकि आप इसे इस्तेमाल करने से पहले निश्चिंत रहे। हमारा उद्देश्य आप तक सही जानकारी पहुँचाना है पर किसी भी औषधि का प्रयोग करने से पहले उसके बारे में जानकर आपको एक बार अवश्य चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए, वो आपको ज्यादा बेहतरीन ढंग से बतायेंगे।

Leave a Comment