कच्चे केले के फायदे, उपयोग और नुकसान | Benefits, Uses And Side-Effects Of Raw Banana

केला हमारे स्वास्थ के लिए बहुत फायदेमंद माने जाता हैं चाहे वो पके केले हो या कच्चे। इन दोनों की महत्ता अपने अपने स्थान पर भिन्न है और स्वाद में भी दोनों का कोई जवाब नहीं। एक ओर जहाँ पके केले रँग में पीले होते हैं और इनका स्वाद मीठा होता है वही दूसरी ओर कच्चे केले का रंग हल्का हरा होता है और इसका स्वाद आलू की तरह होता है।

जहाँ पके केले के छिलके को हटाकर कर आसानी से खाया जा सकता है वही कच्चे केले से बहुत से खाद पदार्थों को बनाया जा सकता है। इसमें कोई शक नही है की कच्चे केले से नमक एवं मसाले वाली चीज़े ज्यादा बनाई जाती हैं, जैसे केले के चिप्स, कोफ़्ता एवं टिक्की आदि। ये सब तो रही खाने और स्वाद की बातें पर क्या आप जानते है कच्चे केले में ऐसे बहुत से पोषक तत्व मौजूद होते है जो बहुत गुणकारी माने जाते है।

आज इस आर्टिकल मे आप उन्हीं गुणों को विस्तारित ढंग से जानेंगे और हम आपको इसके उपयोग भी बतायेंगे और साथ ही इस बात से भी अवगत कराएंगे के कच्चे केले के सेवन से कौन कौन से नुकसान हो सकते हैं। कच्चे केले के फायदे, उपयोग और नुकसान के बारे में पूर्ण रूप से जानने के लिए आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े। तो चलिए शुरू करते है। –

कच्चे केले के फायदे :

कच्चे केले को या इससे बने खाद पदार्थों को खाने के फायदे निम्निलिखित हैं। –

1) स्वस्थ हृदय के लिए कच्चे केले है बहुत फायदेमंद –

हृदय के रोगी के लिए और जो अपने हृदय को स्वस्थ रखना चाहता है उनके लिए कच्चे केले का सेवन लाभकारी सिद्ध हो सकता है। कच्चे केले में फाइबर की मात्रा शामिल होती है, और फाइबर कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में मदद करता है।i इसलिए हृदय की देखभाल के लिए ये अच्छा माना जाता है एवं कच्चे केले में न्यूट्रास्यूटिकल गुण भी पाए जाते है जो हृदय के मरीजो को जल्द ठीक करने में मदद करता है। 

2) पोषक तत्वों की मौजूदगी –

कच्चे केले में कई पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं जो एक बेहतर स्वास्थ्य के लिए बहुत ज़रूरी माना गया है। कच्चे केले में ऊर्जा, प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट, फइबर, शुगर, स्टार्च, विटामिन- सी, थायमिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, विटामिन-बी 6, फोलेट, विटामिन-ए, माइक्रोग्राम, विटामिन ई एवं विटामिन-के जैसे पोषक तत्व शामिल है जो हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी है।

अगर व्यक्ति कच्चे केले को अपने आहार मे शामिल करता है तो ये सभी तत्व उसके शरीर में पहुँचते है और वो कई मर्ज़ से बचा रहता है। इसलिए कहा जाता है प्राकृतिक एवं पौष्टिक आहार को अपने भोजन में समलित करें आपको दवा को अपने दिनचर्या में शामिल करने की ज़रूरत नही पड़ेगी। 

3) चेहरे एवं त्वचा के लिए –

आपको ये बात जान कर हैरानी होगी की कच्चा केला जितना हमारे स्वास्थ्य को अच्छा रखता है उतना ही ये एक स्वस्थ त्वचा के लिए भी अच्छा माना जाता है। यहाँ स्वस्थ त्वचा से हमारा आशय एक बेदाग एवं झुर्रियों रहती स्किन से है। दरसल, एक रिसर्च के अनुसार पता चला है की कच्चे केले के सेवन से जहाँ सेहत अच्छी रहती है वही ये हमारी त्वचा का भी बेहद ख्याल रखता है। इससे अस्मायिक झुर्रिया चेहरे पर नही पड़ती और साथ ही कील मुहासे भी आपके चेहरे से कोशों दूर रहते हैं। 

4) कैंसर के मरीजों के लिए –

कैंसर एक खतरनाक बीमारी है, जो व्यक्ति को अंदर से बहुत कमज़ोर कर देती है और अगर एक बार हो जाए तो दवा लेने का सिलसिला सालों जारी रहता है। ऐसे में कैंसर से पीड़ित मरीजों को अपने खान पान पर बहुत ध्यान देना होता है। ऐसा माना जाता है की कच्चे केले का सेवन कैंसर के मरीजों को करना चाहिए। हालांकि ये औषधि नही है लेकिन ये एक स्वस्थ भोजन हो सकता है। और आप इसे बहुत से रोगों से बचने के लिए भी खा सकते हैं। 

5) पाचन क्षमता बढ़ाने मे कारगर –

अन पच एक बहुत आम समस्या है जो पाचन क्रिया बिगड़ जाने के कारण होती हैं। ऐसे बहुत से खाद पदार्थ होते हैं जिनके सेवन से इस परेशानी से बचा जा सकता है। कच्चा केला भी उन्ही में से एक है जो हमारे पाचन तंत्र को मजबूत प्रदान करता है और ये हमारे पेट के लिए अच्छा रहता है। इसके सेवन से बदहजमी जैसी संस्याओं से भी निजात पाया जा सकता है। 

6) वजन घटाने के लिए –

बढ़ती वजन की समस्या से आज बहुत से लोग परेशान है। बहुत प्रयासों के बाद भी उनको इस समस्या से छुटकारा नही मिल पाता है, इसका एक मुख्य कारण खाने पर नियंत्रण न होना एवं कुछ भी खा लेना हो सकता है। बढ़ते वजन को रोकने के सही खान पान का होना बहुत ज़रूरी है और कच्चा केला उन्ही में से शामिल है इसे एक अच्छे भोजन के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है जो वजन कम करने में बहुत कारगर होता है। 

7) बालों को मुलायम एवं चमकदार बनाता है। –

केले में कार्बोहाइड्रेट, विटामिन के एवं पोटेशियम की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है जो बालों के लिए बहुत उपयोगी माना जाता है। इसलिए कच्चे केले का सेवन करने से ये पोषक तत्व आपके बालों को भी मिलते हैं और इससे आपके बालों की टूटने की समस्या दूर होती है साथ ही बाल मुलायम एवं हेलदी रहते हैं। 

8) दस्त में रामबाण –

दस्त जैसी समस्या होने पर केले का समूदी रामबाण का काम करता है , केले में पेक्टीन और पोटेशियम नामक एक विशेष प्रकार का तत्व पाया जाता है जो कि अत्यधिक दस्त होने पर हमारे आंतों से निकल रहे तरल पदार्थ को न सिर्फ अवशोषित करने में सहायता प्रदान करता है बल्कि इसके साथ ही पोटेशियम के माध्यम से हमारे शरीर से जो फ्लुइड निकल रहा होता है उसकी भरपाई भी करता है।

कच्चे केले का उपयोग :-

अब तक आप कच्चे केले के फायदों से अच्छे से वाक़िफ़ हो चुके होंगे और अब् आप जानेंगे की इसे उपयोग में कैसे लाया जाता है। कच्चे केले का प्रयोग करने के कई तरीके है और इससे कई तरह के व्यांजन तैयार किये जा सकते है जो स्वाद में उच्च दर्जे के होते हैं। 

  1. आपने अक्सर व्रत आदि में लोगों को बनाना चिप्स को खाते देखा होगा। इसे बनाने में कच्चे केले का उपयोग किया जाता है, और व्रत के अलावा भी आप इसे खाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  2. कच्चे केले से टिक्की भी बनाई जाती है जो खाने में काफी स्वादिष्ट होती है, तो आप कच्चे केले का प्रयोग टिक्की बनाने में भी कर सकते हैं। 
  3. कोफ़्ता बहुत तरह की सब्ज़ियों द्वारा बनाया जाता है जिसका स्वाद लाजवाब होता है, और कच्चे केले से भी कोफ़्ता तैयार किया जाता है जो मसालेदार एवं चटपटा होता है, इसे पुलाव या चावल के साथ खाया जा सकता है जो बहुत लज़ीज़ होता है। 
  4. कच्चे केले को पक्के केले की तरह भी खाया जा सकता है और बहुत से व्यक्तियों द्वारा इसे खाया भी जाता है, हालांकि इसका स्वाद पके केले की तरह नही होता लेकिन ये स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। तो आप सामान्य तरीके से भी कच्चे केले का सेवन कर सकते हैं। 

कच्चे केले के नुकसान :

दोस्तो अभी तक आपने इस आर्टिकल में कच्चे केले के फायदे एवं इसका उपयोग कैसे करे ये जाना। तो अब आते है इसके नुकसान पर, सभी चीजों के गुण एवं अवगुण दोनों होते हैं जहा एक तरफ वो हमे फ़ायदा पहुँचाती है तो दूसरी तरह वो नुकसानदेह भी हो सकती हैं, खासकर ये खाद पदार्थों के साथ अधिक होता है। इसलिए कच्चे केले के फायदे एवं उपयोग के बाद ये जानना बेहद ज़रूरी हो जाता है की इसके नुकसान क्या क्या हो सकते हैं। 

  1. केले में अमीनो एसिड टाइरोसिन होता है, जो शरीर के लिए नुकसानदेह होता है इसलिए ज्यादा केले का सेवन हमारे स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है
  2. केले का अधिक सेवन पेट दर्द का कारण बन सकता है और पेट मे ऐंठन एवं उल्टी आदि की समस्या उत्पन्न हो सकती है
  3. अगर आपने पहली बार कच्चे केले का सेवन किया और पाचन तंत्र बिगड़ गया तो केले को नहीं खाये क्योंकि ये आपके लिए एलर्जी भी हो सकता है और जिसे केले से एलर्जी है उसके लिए ये नुकसानदेह हो सकता है। 
  4. केले में फाइबर अधिक होता है और अगर हमारे शरीर को ज्यादा  फाइबर मिले तो स्वास्थ्य बिगड़ सकता है और सूजनसूजन, गैस एवं जलन जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है
  5. पके केले को खाने से पेट साफ होता है लेकिन अगर कच्चा केला ज्यादा मात्रा में खाया जाए तो कब्ज़ की समस्या हो सकती है, इसलिए एक निश्चित मात्रा मे इसका सेवन करना चाहिए
  6. खाली पेट केले का सेवन करना स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता है, इसलिए कोशिश करे की इसे खाली पेट भूलकर भी न खाये। 

खाना किसी भी प्रकार और कितना भी स्वादिष्ट क्यों ना हो मगर हमें उसे एक सीमित मात्रा में ही खाना चाहिए अन्यथा इसके नकारत्मक पक्ष ही सामने आयेंगे इसलिए आवश्यकता से अधिक किसी भी पदार्थ का सेवन न करे, नही तो इसके दुष्परिणाम हम पर ही आयेंगे और ये हमारे लिए परेशानी का सबब बन जायेगा। 

निष्कर्ष :-

दोस्तो आज इस आर्टिकल के माध्यम से आपने कच्चे केले के फायदे, उपयोग एवं इससे क्या क्या नुकसान हो सकते हैं ये जाना। तो अबतक आप ये अच्छे से जान चुके होंगे की कच्चे केले का सेवन कब कब करना चाहिए और कौन सी बीमारी मे ये लाभदायक हो सकती है।

हालांकि आप स्वाद के लिए भी इसे खाने मे इस्तेमाल कर सकते हैं और इससे तैयार किये बनाना चिप्स का स्वाद बहुत बेहतरीन होता है जिसे चाय के साथ भी खाया जा सकता है। हमे उम्मीद है की ये जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी और आपको हमारा ये आर्टिकल बेहद पसन्द आया होगा।

Leave a Comment