अनगिनत खूबियों से भरपूर होता है काला जीरा, जानें इसके फायदे, उपयोग एवं नुकसान | Uses, Benefits And Side-Effects Of Black Cumin

हमारा भारतीय रसोंई में मसालों के बिना भोजन अधूरा माना जाता है, एक ओर जहाँ मसालों की खुशबू पूरे घर को खुशबू से महका देती है वही दूसरी ओर खाने में स्वाद को भी बढ़ा देती है। अगर भोजन में मसालों का प्रयोग न किया जाये तो ज़बाँ को भरपूर स्वाद नही मिल पाता। इसलिए ऐसे तमाम तरह के तीखे और लज़ीज़ पकवान होते है जिसमे मसाला बहुत महत्व रखता है। 

आज हम उन्ही मसालों की शृंखला में से एक ऐसे मसाले के बारे में बात कर रहे हैं जो सब्ज़ी में अनिवार्य रूप से डालने के काम मे आता है और हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत चमत्कारी माना जाता है। उस मसाले का नाम है काला जीरा। प्रायः दो तरह के जीरे पाए जाते हैं एक भूरा जीरा और एक काला जीरा। 

आमतौर पर रसोई में भूरे रंग के जीरे का प्रयोग किया जाता है, तड़का लगाने के लिए या गर्म मसाला आदि तैयार करने के लिए। जब ये पूर्ण रूप से बन कर तैयार हो जाता है और किसी खाद पदार्थों में इसका इस्तेमाल होता है तो पूरी रसोई इससे सुगंधित हो जाती है। 

काला जीरा सामान्य जीरे से थोड़ा अलग एवं कड़वा होता है और इसकी तासीर गर्म होती है, लेकिन इसमें एक बेहतर स्वास्थ्य का राज़ छुपा है जिसे हम विस्तार पूर्वक इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे। तो चलिए शुरू करते है। –

काले जीरे के फायदे –

काले जीरे से होने वाले फायदे निम्नलिखित है जो कुछ इस प्रकार हैं। –

1) प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए –

एक अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना बहुत आवश्यक माना जाता है, और खासकर कोविड 19 जैसी भयावह महामारी के आगमन के बाद से प्रतिरोधक क्षमता का ठीक होना बहुत ज़रूरी है। 

काले जीरे के सेवन से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, काला जीरा म्यूनोमॉड्यूलेटरी व थेराप्यूटिक जैसी खूबियों से परिपूर्ण होता है जो इम्युनिटी बढ़ाने में काफी कारगर माना जाता है साथ ही ये ब्रोन्कियल अस्थमा एवं एटोपिक एक्जिमा अदि से लड़ने में सहायक होता है और आपको एक अच्छे स्वास्थ्य का उपहार देता है। 

2) पेट में दर्द सहायक –

पेट दर्द या आंत से जुड़ी समस्याएं बहुत आम है और इससे बचने के लिए काला जीरा एक प्राकृतिक रामबाण के समान है। काले जीरे में एनाल्जेसिक के गुण शामिल है जो पेट दर्द से राहत दिलाता है और एक रिपोर्ट में भी ये बात सामने आई है की काला जीरा पेट के लिए एक औषधि की तरह काम कर सकता है। तो जब भी आपको पेट संब्ंधित कोई समस्या आती है तो ये घरेलू नुस्खा अपना कर इसके परिणाम देख सकते हैं। 

3) सिरदर्द से राहत –

सिर दर्द एक ऐसी समस्या है जो बिना बुलाये किसी भी वक़्त किसी भी व्यक्ति को हो सकती है और मालिश आदि करने से आराम मिलता है पर अगर काले जीरे की बात करें तो सिरदर्द में इसका सेवन आपके लिए आपके लिए बहुत उपयोगी हो सकता है। काले जीरे को साधारण पानी में डालकर हल्का गुनगुना होने की स्थिति में पिया जा सकता है इससे आपको काफी राहत मिलेगा। 

4) त्वचा के लिए लाभकारी –

हर कोई ये चाहता है की उसकी त्वचा हमेशा बेदाग एवं खूबसूरत नजर आये और उनमे दरारे न आये। एक अच्छी और स्वस्थ त्वचा पाने में हमारी खान पान का अहम भूमिका निभाती है। और एक वैज्ञानिक शोध में ये बता सामने आई है की काले जीरे में एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण शामिल होते हैं जो त्वचा को स्वस्थ व बेदाग रखते हैं और साथ ही वूंड हीलिंग और स्किन पिगमेंटेशन  को कम करने में ये बहुत कारगर होते हैं। तो काले जीरे का सेवन आपकी स्वस्थ त्वचा के लिए बहुत उपयोगी हो सकता है। 

5) सर्दी और बुखार में करे काले जीरे का सेवन –

जुखाम एवं सर्दी सी बचने के लिए आज भी लोग दवाओं के साथ साथ घरेलू नुस्खे भी अपना कर देखना पसन्द करते हैं क्योंकि ये भी एक बहुत अच्छा उपाय हो सकता है जो पारंपरिक है। और इन्ही घरेलू नुस्खे में एक रोल काले जीरे का भी होता है। दरसल, सर्दी और बुखार से ग्रस्त व्यक्ति यदि काले जीरे का सेवन करते हैं तो ये प्राकृतिक तौर पर बहुत असरदाई साबित होता है और जल्दी बुखार और जुखाम से राहत दिल सकता हैं। 

6) बालों के लिए असरदार –

आज के दौर में हर उम्र के व्यक्तियों के साथ ये देखा गया है की वो अपने बालों को लेकर बहुत परेशान रहते हैं चाहे वो युवा हो या बच्चे। बाल टूटने की समस्या बहुत कम उम्र से ही होने लगी है और उनके बाल भी हेल्दी नही होते हैं। ऐसी स्थिति में आपको अपने डाइट का काफी ख्याल रखना पड़ता है और ये भी ध्यान देना होता है की आप बालों मे किन किन चीजों का प्रयोग करते हैं। 

बाजार में काले जीरे का तेल उपलब्ध है जिसे बालों में लगाने से काफी लाभ होता है। एक रिसर्च के अनुसार काले जीरे के तेल मे कुछ ऐसे गुण शामिल होते हैं जो बालों को चमक एवं मजबूती प्रदान करते हैं एवं उन्हे टूटने से भी बचाते हैं। तो काले जीरे का तेल आपको बालों की समस्या से राहत दिल सकता है। 

7) मोटापा कम करने में मददगार

बढ़ते वजन की समस्या से परेशान व्यक्तियों के लिये काला जीरा बहुत लाभकारी साबित हो सकता है। दरसल एक मेडिकल रिसर्च में ये बात सामने आई है की काले जीरे के बीज में एंटी ओबेसिटी गुण मौजूद होता है, जो मोटापा को कम करने में मदद करता है। वजन घटाने की समस्या से निजात पाने के लिए आप काले जीरे का इस्तेमाल कर के इसके सकारात्मक परिणाम देख सकते हैं। 

काले जीरे का उपयोग –

काले जीरे के तमाम फायदे जानने के बाद अब ये भी जान लेते हैं की इसे उपयोग मे कैसे लाया जा सकता है। काले जीरे को निम्नलिखित तरीको से उपयोग में लाया जा सकता है। –

  1. तड़का लगाने के लिए काले जीरे को उपयोग में लाया जाता है इसकी उपस्थिति तड़के की सुगंध को बढ़ा देती है
  2. काले जीरे का पेस्ट तैयार करके इसे त्वचा के दाग वाले हिस्सों पर लगाया जा सकता है, ये काफी असरदाई होता है
  3. आचार बनाते वक्त भी काले जीरे का उपयोग किया जाता है
  4. नान या कुलचों जैसे स्वादिष्ट व्यंज्न में काले जीरे को इस्तेमाल किया जाता है, आपने अमुमन नान के उपरी हिस्सों पर में काले जीरे की मौजूदगी देखा होगा
  5. काले जीरे को पानी में उबालकर भी काढ़े की तरह इसका सेवन किया जा सकता है, ये एक उपयोगी पेय पदार्थ माना जाता है
  6. काले जीरे का उपयोग गर्म मसालों के निर्माण मे भी किया जाता है
  7. ब्रेड या पाव बनाते समय भी काले जीरे का प्रयोग किया जाता हौ
  8. नमकीन एवं नमक से सम्बन्धित चीजों को बनाने में भी काले जीरे का उपयोग होता है
  9. कुकीज़ तैयार करते समय काला जीरा प्रयोग में लाया जाता है
  10. काले जीरे से बने पाउडर को सब्ज़ी में भी उपयोग किया जाता है इससे स्वाद में वृद्धि होती है
  11. काले जीरे का उपयोग बिरयानी व पुलाव में भी किया जाता है
  12. कई बार ब्राउन जीरे के स्थान पर भी काले जीरे को प्रयोग कर सकते हैं
  13. नमकिन बिस्किट को बनाने में काले जीरे को उपयोग में लाया जाता है
  14. काले जीरे को भुनकर फिर इसे बारीकी से पीस कर इसे रायते या सब्ज़ी जैसे खाद पदार्थों के लिए उपयोग में लाया जा सकता है 

काले जीरे के नुकसान –

हर वो चीज जो हमारे लिए बहुत लाभकारी होती है उसके कुछ न कुछ नुकसान भी होते हैं। जिससे हमे ज़रूर अवगत होना चाहिए, अभी तक आपने इस लेख में काले जीरे से होने वाले तमाम फायदों के बारे में और इसके उपयोग के बारे मे विस्तृत रूप से जाना। तो आइये अब काले जीरे से होने वाले कुछ नुकसान के बारे में भी जान लेते हैं। 

1. गर्भावस्था में है नुकसानदेह –

अगर गर्भवती महिला अधिक मात्रा मे जीरे का सेवन करती है तो इस अवस्था में जीरा उसके लिए खतरनाक साबित हो सकता है क्योंकि इससे गर्भपात या समय से पहले डिलिवरी होने की समस्या होती है। 

2. किडनी के रोगी के लिए

अगर आपको किडनी में समस्या है तो आपको काले जीरे का सेवन नही करना चाहिये ये आपकी समस्या को और बढ़ा देता है। 

3. रक्तस्राव की समस्या

ज़रूरत से ज्यादा की भी चीज अच्छी नही मानी जाती इसलिए जब आप काले जीरे का अधिक प्रयोग या हर खाद पदार्थ में इसको शामिल करते हैं तो इससे रक्तस्राव का खतरा बढ़ने की संभावना होती है

4. काले जीरे के तेल का अधिक सेवन हौ नुकसानदेह

अगर काले जीरे के तेल का सेवन अधिक मात्रा में किया गया है तो इसके आपको नकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकते हैं

निष्कर्ष :

इस आर्टिकल को पढ़कर अब तक आप काले जीरे के फायदों उपयोग एवं इससे उत्पन्न होने वाले नुकसान के बारे में पूर्ण रूप से अवगत हो चुके होंगे और आपने ये भी जान लिया होगा की काले जीरे एवं सामान्य जीरे में क्या अंतर होता है। 

जीरे का उपयोग अगर सही ढंग से किया जा जाए तो कई बार हमारे लिए औषधि की भाँति कार्य कर सकता है और अगर ज़रूरत से ज्यादा इसका इस्तेमाल किया जाए तो ये हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। तो किसी रोगी को काले जीरे को दिया जा रहा है तो एक बार डॉक्टर से परामर्श अवश्य करें। 

हम उम्मीद करते है कि आपको हमारा आज का ये आर्टिकल बेहद पसन्द आया होगा और यह आपके लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होगा। ऐसे ही ज्ञानवर्धक जानकारी के लिए बने रहिए हमारे साथ धन्यवाद।

Leave a Comment